Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

नवादा से न्यू जर्सी और बेगूसराय से बोस्टन... छठ को लेकर राष्ट्रपति ने कही बिहार के लोगों को गदगद करनेवाली बात

पटना छठ पूजा दिवाली के छह दिन बाद मनाया जाता है। इस साल आठ नवंबर से इस महापर्व की शुरुआत हो रही है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने छठ व्रत क...

पटना छठ पूजा दिवाली के छह दिन बाद मनाया जाता है। इस साल आठ नवंबर से इस महापर्व की शुरुआत हो रही है। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने छठ व्रत को ग्लोबल बताया। उन्होंने कहा कि नवादा से न्यू जर्सी और बेगूसराय से बोस्टन तक इसकी महिमा है। 'पूरे देश में मनाया जा रहा छठ महापर्व' राष्ट्रपति ने कहा कि 'मैं जब भी बिहार आता हूं तो सुखद अनुभूति होती है। बिहार आता हूं तो अच्छा लगता है। बिहार से अलग नाता लगता है। यहां आकर लगता है कि अपने घर आया हूं। जब यहां राज्यपाल था तब यहां के लोगों का सम्मान तो मिला ही, राष्ट्रपति के रूप में भी जब मैं यहां आता हूं तो वही सम्मान पाता हूं।' राष्ट्रपति ने छठ पर्व की चर्चा करते हुए कहा कि 'बिहार का छठ पर्व अब पूरे देश में मनाया जा रहा है।' 'छठ पूजा अब एक ग्लोबल फेस्टिवल' राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कहा कि 'कुछ ही दिनों बाद हम सभी देशवासी दीपावली और छठ का त्योहार मनाएंगे। छठ पूजा अब एक ग्लोबल फेस्टिवल बन चुका है। आज दुनियाभर के लोग छठ पर्व मना रहे हैं। नवादा से न्यू जर्सी तक और बेगूसराय से बोस्टन तक छठी मइया की पूजा बड़े पैमाने पर की जाती है। यह इस बात का प्रमाण है कि बिहार की संस्कृति से जुड़े उद्यमी लोगों ने विश्व स्तर पर अपना स्थान बनाया है। मुझे विश्वास है कि इसी प्रकार स्थानीय प्रगति के सभी आयामों पर भी बिहार के प्रतिभावान और परिश्रमी लोग सफलता के नए मानदंड स्थापित करेंगे।' 8 नवंबर से इस साल छठ पूजा की शुरुआत दरअसल बिहार विधानसभा भवन के 100 साल पूरे होने के अवसर पर आयोजित समारोह में राष्ट्रपति शामिल हुए थे। राज्यपाल के तौर पर वो बिहार के छठ महापर्व को देख चुके हैं। छठ पूजा की शुरुआत नहाए खाए से होता है। इस साल यह दिन 8 नवंबर 2021 को है। छठ पूजा का दूसरा दिन खरना 9 नवंबर को है। इस दिन महिलाएं व्रत रहती हैं और रात में प्रसाद के तौर पर खीर खाती हैं। छठ पूजा का तीसरा दिन संध्या अर्घ्य है। इस बार संध्या अर्घ्य 10 नवंबर को है। 11 नवंबर की सुबह 8.25 बजे छठ महापर्व समाप्त हो जाएगा।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3b0tqcs
https://ift.tt/3E1FO8k

No comments