Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

West Bengal election result-2021

West Bengal election result-2021

डासना के पास एनएच-9 से जुड़ेगी नॉर्दर्न पेरिफेरल रोड, जाम से मिलेगी राहत

अखंड प्रताप‍ सिंह, गाजियाबाद गाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) नॉर्दर्न पेरिफेरल (एनपीआर) रोड को अब डासना के पास एनएच-9 से जोड़ेगा। इससे ज...

अखंड प्रताप‍ सिंह, गाजियाबादगाजियाबाद विकास प्राधिकरण (जीडीए) नॉर्दर्न पेरिफेरल (एनपीआर) रोड को अब डासना के पास एनएच-9 से जोड़ेगा। इससे जीडीए की मधुबन बापूधाम आवासीय योजना को काफी फायदा होगा। इसलिए जीडीए ने पिछले दिनों सेंट्रल रोड रिसर्च इंस्टिट्यूट से इसका सर्वे करवाकर नक्शा बनवाया है। नक्शे में एनपीआर को डासना में आध्यात्मिक इंटर कॉलेज से 200 मीटर आगे जोड़ने की बात की गई है। एनपीआर के एनएच-9 से जुड़ने से राजनगर एक्सटेंशन की मुख्य सड़क और दिल्ली-मेरठ रोड पर लगने वाले जाम से बहुत अधिक राहत मिल जाएगी। इतना ही नहीं बल्कि शहर के अंदर की सड़कों पर जो मेरठ और हापुड़ की तरफ जाने वाले वाहनों की वजह से जाम लगता है, वह भी कम होगा। जीडीए के अधिकारियों ने बताया कि पहले हमारी प्लानिंग थी कि इसे दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे से जोड़ दिया जाए। लेकिन एनएचएआई ने इसके लिए अनुमति नहीं दी है। जिसकी वजह से दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेस के ऊपर से एनपीआर को लाकर एनएच-9 से जोड़ा जाएगा। इससे मधुबन बापूधाम आवासीय योजना दिल्ली-मेरठ रोड, दिल्ली मेरठ एक्सप्रेसवे, एनएच-9 से जुड़ जाएगी। इस प्रॉजेक्ट के पहले चरण का निर्माण कार्य शुरू हो चुका है। की उपयोगिता को बढ़ाए जाने के लिए जीडीए ने 3.5 किमी का आउटर रिंग रोड बनाए जाने का फैसला किया है। आउटर रिंग रोड को राजनगर एक्सटेंशन में प्रस्तावित इंटरनैशनल क्रिकेट स्टेडियम से शुरू करके ग्राम भोवापुर तक नॉर्दर्न पेरिफेरल रोड से लिंक किया जाएगा। इस पर 29 करोड़ रुपये किया जा रहा है। आउटर रिंग रोड से मिलेगी काफी राहतजीडीए के अधिकारी बताते हैं कि आउटर रिंग रोड के बनाए जाने से इंटरनेशनल स्टेडियम की उपयोगिता बढ़ने के साथ ही दिल्ली से आने वाले लोगों को किसी प्रकार की दिक्कत नहीं होगी। वह पहले नॉर्दर्न पेरिफेरल और फिर आउटर रिंग रोड का इस्तेमाल करके आसानी से स्टेडियम तक पहुंच सकेंगे। वहीं एनपीआर के निर्माण से दिल्ली, लोनी की ओर से हरिद्वार और मेरठ की तरफ जाने वाले ट्रैफिक को गाजियाबाद शहर के भीतर प्रवेश करने की आवश्यकता नहीं होगी। जिससे गाजियाबाद शहर के ट्रैफिक पर दबाव कम हो जाएगा। मेरठ, हरिद्वार और आसपास के शहरों से इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम तक सीधे पहुंचने के लिए सड़क मिल जाएगी। एनपीआर को 6 लेन का बनाया जाएगा। तीन लेन अप और तीन लेन को डाउन रखा गया है। करीब 20 किमी के इस प्रॉजेक्ट में 600 करोड़ रुपये अवस्थापना निधि के खर्च किए जाएंगे। जीडीए इस प्रॉजेक्ट को लेकर अधिक जमीन का अधिग्रहण बहुत पहले कर चुका है। जमीन अधिग्रहण में जीडीए ने 400 करोड़ रुपये खर्च किए हैं।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3EXOw8h
https://ift.tt/3katZW4

No comments