Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

Bihar Omicron Update: कोरोना के ओमीक्रोन वेरिएंट से लड़ने को कितना तैयार है बिहार?

पटना बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस (Coronavirus in Bihar) के नए स्वरूप ओमीक्रोन (Omicron Variant latest update) के मद्...

पटना बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कोरोना वायरस (Coronavirus in Bihar) के नए स्वरूप ओमीक्रोन (Omicron Variant latest update) के मद्देनजर राज्य के स्वास्थ्य अधिकारियों को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। नीतीश कुमार (Nitish kumar) ने एक बैठक में स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान कोरोना वायरस के नए स्वरूप को लेकर चर्चा की और अपने विचार साझा किए। उन्होंने अधिकारियों को विदेश से राज्य में आने वाले लोगों पर कड़ी नजर रखने और किसी में भी लक्षण दिखने पर नमूनों की त्वरित जांच करने के निर्देश दिए। कोरोना वायरस के ओमीक्रोन स्वरूप के मामले प्रमुख रूप से दक्षिण अफ्रीका के अलावा ब्रिटेन और बेल्जियम में सामने आए हैं। मुख्यमंत्री ने लोगों के कोविड-19 रोधी टीकाकरण पर जोर देते हुए कहा कि महामारी अभी खत्म नहीं हुई है, इसलिए लोगों को कोविड संबंधी मानदंडों और नियमों का पालन करना चाहिए। ओमीक्रोन को लेकर दुनिया में दहशत कोरोना वायरस के नए वैरियंट ओमीक्रोन को लेकर पूरी दुनिया दहशत में है। विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने भी इस वायरस को चिंता का विषय बताया है। अमेरिका, ब्रिटेन समेत दुनिया के कई देशों ने तो अपनी सीमाओं को फिर से सील करना शुरू कर दिया है। इस बीच दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के ओमीक्रोन वैरियंट को खोजने वाली डॉक्टर एंजेलिक कोएत्जी ने नया खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि नया वेरिएंट मरीजों पर कैसा असर दिखा रहा है। ओमीक्रोन खोजने वाले डॉक्टर ने दी राहत भरी खबर डॉक्टर एंजेलिक कोएत्जी ने कहा कि अबतक ओमीक्रोन वैरियंट से संक्रमित रोगियों में बेहद हल्के लक्षण देखे गए हैं। उन्होंने चेतावनी देते हुए यह भी कहा कि लेकिन, कमजोर लोगों के लिए बीमारी की गंभीरता को जानने से पहले हमें और अधिक शोध की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि इस वैरियंट से संक्रमित रोगियों ने उन्हें बताया है कि वे कैसा महसूस कर रहे हैं। डब्लूएचओ बोला-वैक्सीन को लेकर अध्ययन जारी डब्लूएचओ ने यह भी कहा कि अभी तक यह स्पष्ट नहीं हुआ है कि डेल्टा सहित अन्य वैरियंट की तुलना में ओमीक्रोन के संक्रमण से अधिक खतरा है। प्रारंभिक आंकड़ों से पता चला है कि दक्षिण अफ्रीका में अस्पताल में भर्ती होने की दर बढ़ रही है। ऐसे में ओमीक्रोन वैरियंट लोगों की कुल संख्या में वृद्धि के कारण हो सकता है। डब्ल्यूएचओ तकनीकी विशेषज्ञों के एक समूह के साथ भी काम कर रहा है ताकि यह पता लगाया जा सके कि क्या नया स्ट्रेन मौजूदा टीकों और अन्य स्वच्छता उपायों की प्रभावशीलता को प्रभावित कर सकता है। डब्लूएचओ ने शुक्रवार को ओमीक्रोन वैरियंट की पहचान की थी। इसे पहली बार दक्षिण अफ्रीका में पाया गया था। इसके पहले के सभी वैरियंट की तुलना में अधिक संक्रमण फैलाने वाला माना गया है। डब्ल्यूएचओ ने इसे ग्रीक वर्णमाला का 15वें अक्षर के आधार पर इसे ओमिक्रोन ना


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3Ei3QwB
https://ift.tt/3xvNH3Y

No comments