Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

Muzaffarpur News : मुजफ्फरपुर 'अंखफोड़वा कांड' में बिहार के मुख्य सचिव को नोटिस जारी, मानवाधिकार आयोग ने मांगी रिपोर्ट

मुजफ्फरपुर राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC Notice on Muzaffarpur Eye Case) ने बुधवार को बिहार के मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया और मुजफ्फरप...

मुजफ्फरपुरराष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (NHRC Notice on Muzaffarpur Eye Case) ने बुधवार को बिहार के मुख्य सचिव को नोटिस जारी किया और मुजफ्फरपुर के एक निजी अस्पताल में मोतियाबिंद के कथित ऑपरेशन का ब्योरा मांगा, जिसमें लापरवाही के बाद चार मरीजों की आंखें ही निकालनी पड़ीं। राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने मांगी रिपोर्ट राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने अपने नोटिस में अस्पताल में हुए ऑपरेशन से जुड़ी तमाम चीजों का ब्योरा दोने को कहा है। इसी बीच घटना की जांच के लिए गठित सदस्य समिति ने ऑपरेशन थियेटर में उपकरण से स्वैब इकट्ठे किए और संक्रमण के स्रोत की पहचान करने के लिए नमूनों को जांच के लिए एसकेएमसीएच-मुजफ्फरपुर भेज दिया। NHRC ने अपनी चिट्ठी में प्रोटोकॉल के बारे में भी लिखाNHRC ने अपने पत्र में मेडिकल प्रोटोकॉल का भी हवाला दिया है, जो एक डॉक्टर को रोजाना अधिकतम 12 सर्जरी करने की अनुमति देता है। लेकिन इस मामले में, डॉक्टर ने 65 रोगियों की मोतियाबिंद की सर्जरी की। 4 लोगों की आंख निकालनी पड़ी थी इस ऑपेरशन में चार लोगों की संक्रमण के चलते आंख ही निकालनी पड़ी थी। अभी ऊी एसकेएमसीएच में दो मरीजों का इलाज चल रहा है। डॉक्टरों के मुताबिक आशंका है कि उनकी आंख की रोशनी भी जा सकती है। एनएचआरसी ने कहा है कि सरकारी अस्पताल में चिकित्सा प्रोटोकॉल का उल्लंघन करके इस तरह से लापरवाही से आंखों की सर्जरी करना एक गंभीर चिंता का विषय है। एनएचआरसी ने उन मरीजों का ब्योरा मांगा है, जिनकी आंखें चली गई हैं और उन्हें क्या इलाज मुहैया कराया गया है। ये रिपोर्ट 4 हफ्ते में मांगी गई है। एनएचआरसी ने यह भी कहा कि 'छह मरीजों की हालत बेहद गंभीर है। अस्पताल के अधिकारियों ने जिला प्रशासन या राज्य के स्वास्थ्य विभाग को सूचित न करके मामले को रफा-दफा करने की कोशिश की।'


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3Ib8636
https://ift.tt/31i22Fr

No comments