Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

यूक्रेन से कोटा पहुंचे 6 स्टूडेंट, बोले- बमबारी और धमाकों की आवाजें से सहमा दिया...

अर्जुन अरविंद, कोटा: रूस और यूक्रेन में हो रही जंग ने भारत को प्रभावित कर दिया है। बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोग और स्टूडेंट्स यूक्रेन ...

अर्जुन अरविंद, कोटा:रूस और यूक्रेन में हो रही जंग ने भारत को प्रभावित कर दिया है। बड़ी संख्या में भारतीय मूल के लोग और स्टूडेंट्स यूक्रेन में फंसे हुए हैं। इसी बीच राजस्थान के छात्रों का दल चार्टर विमान से यूनिवर्सिटी दूतावास की मदद से अपने वतन को लौटे है। इसमें 150 से ज्यादा स्टूडेंट्स भारत आये हैं। उनमें 17 राजस्थान के स्टूडेंट्स हैं। राजस्थान सरकार के अधिकारियों ने दिल्ली में उन्हें रिसीव किया है। 6 स्टूडेंट्स संपर्क क्रांति से कोटा पहुंचे राजस्थान के अलग-अलग शहरों के लिए दिल्ली से स्टूडेंट्स निकले चुके हैं। यहां 6 स्टूडेंट संपर्क क्रांति ट्रेन से कोटा पहुंचे, तो कोटा रेलवे स्टेशन पर उनके परिजनों ने फूल मालाओं से स्वागत किया। इस दौरान कोटा दादाबाड़ी विनायक काम्प्लेक्स कॉलोनी में रहने वाले स्टूडेंट आयुष चतुर्वेदी ने यूक्रेन के ताजा हालात नवभारत टाइम्स से साझा किए। आयुष ने बताया- जब भारत लौटा, तब तक यूक्रेन के हालात काफी बिगड़ चुके थे आयुष ने बताया कि जब वे निकले थे, तो वहां पर हालात सामान्य थे। भारतीय दूतावास ने एडवाइजरी जारी की थी। ऐसा कुछ भी युद्ध जैसा नजर नहीं आ रहा था। जैसे ही वह लौटकर भारत पहुंचे, तो यूक्रेन के हालात बिगड़ गए। आयुष ने बताया साथी स्टूडेंट्स काफी परेशान हो रहे हैं। आयुष ने बताया कि बमबारी और धमाकों की आवाजें सुनाई दे रही हैं। यूनिवर्सिटी कैंपस और हॉस्टल से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा है। आयुष ने कहा- परिजनों का फैसला सहीकोटा के आयुष चतुर्वेदी ने कहा कि 25 फरवरी तक ही एडवाइजरी जारी की थी, लेकिन परिजन उन्हें बार बार बुला रहे थे। ऐसे में उनके दबाव में आकर भारत लौटना पड़ा। अब वे मानते हैं कि उनके परिजनों का फैसला सही था। वह अंतिम चार्टर्ड फ्लाइट थी, जो कि एयरपोर्ट से इंडिया के लिए आई। इसके बाद से अंतरराष्ट्रीय उड़ानों को यूक्रेन से रोक दिया। रूस और यूक्रेन के बीच युद्ध छिड़ गया। इधर, बेटे के घर आने पर आयुष की मां बेहद खुश हैं। उन्होंने कहा है हालात ठीक हो जाने पर वह आयुष को वापस वहां भेजेगी।


from Local News, लोकल न्यूज, Hindi Samachar, हिंदी समाचार, state news in hindi, राज्य समाचार , Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/8KkQRB7
https://ift.tt/sVSwZb7

No comments