Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

Bhilwara News : हजारों लोगों ने पैदल कूच कर किया प्रदर्शन, पुलिस से हुई झड़प, छावनी तब्दील इलाका, आखिर क्या है पूरा मामला

प्रमोद तिवारी, भीलवाड़ा : राजस्थान में पिछले 40 साल से बंद एक धार्मिक स्थल को खुलवाने की मांग को लेकर हजारों लोगों ने मांडल से भीलवाड़ा त...

प्रमोद तिवारी, भीलवाड़ा : राजस्थान में पिछले 40 साल से बंद एक धार्मिक स्थल को खुलवाने की मांग को लेकर हजारों लोगों ने मांडल से भीलवाड़ा तक 13 किलोमीटर पैदल मार्च निकाला और प्रदर्शन किया। वहीं इस विवादित स्थल का ताला तोड़ने का आरोपी युवक भी इस मार्च में शामिल हुआ। पुलिस को उसकी तलाश थी लेकिन वह भी इस पैदल मार्च में शामिल होने के बावजूद गायब हो गया। पुलिस उसे पकड़ने में सफल नहीं हो सकी। वहीं इस घटनाक्रम के दौरान पूरा इलाका पुलिस छावनी बना हुआ था। प्रदर्शनकारियों और पुलिस में हुई झड़पहजारों की संख्या में जुटे इन प्रदर्शनकारियों को भारी संख्या में तैनात पुलिस बल ने बैरिकेडिंग लगा पुलिस छावनी में तब्दील कर जेल तिराहे पर कलेक्ट्रेट पहुंचने से रोका। इस बात को लेकर प्रदर्शनकारियों और पुलिस में जमकर कई बार झड़पें भी हुईं। जेल तिराहे पर पुलिस और प्रदर्शनकारियों के बीच तीखी नोकझोंक और धक्का-मुक्की के बीच लगभग 3 घंटे तक यह प्रदर्शन चलता रहा। बाद में 21 सदस्य प्रतिनिधिमंडल ने जिला कलेक्टर को ज्ञापन देकर विवादित स्थल का ताला खुलवाने की मांग की। प्रदर्शनकारियों ने जिला कलेक्टर आशीष मोदी को ज्ञापन देकर चेतावनी दी कि अगर 6 महीने के अंदर उनकी मांग पूरी नहीं की गई तो समस्त समाज उग्र आंदोलन करेगा इसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी। जानिए क्या है पूरा विवादभीलवाड़ा जिले के मांडल कस्बे मैं पिछले 40 साल से एक विवादित धर्मस्थल पर मांडल थानाधिकारी को रिसीवर नियुक्त कर उस पर ताला लगा रखा है। शुक्रवार सुबह गोपाल गुर्जर नाम के एक व्यक्ति ने इस विवादित स्थल का ताला तोड़कर इस पर धर्म पताका फहरा दिया था। पुलिस को चैलेंज किया था किया कि दम है तो उसे पकड़ कर दिखाएं इसके विरोध में एक समुदाय के लोगों ने प्रदर्शन कर मांडल उपखंड मजिस्ट्रेट को ज्ञापन दिया था। इस प्रदर्शन के दौरान लगाए गए नारों से दूसरा समुदाय उत्तेजित हो गया और तब से जिले में कई कस्बे बंद कर प्रदर्शन किए जा रहे हैं और सोमवार की यह पैदल कूच कर प्रदर्शन किया गया। पुलिस प्रशासन ने बढ़ाई मुस्तैदीगुर्जर समाज के अंतरराष्ट्रीय महत्व के प्रमुख धर्म स्थल सवाई भोज मंदिर आसींद के महंत सुरेश दास ने कहा कि हमने भीलवाड़ा कलेक्टर को ज्ञापन देकर अगले 6 महीने में मंदिर खोलने के लिए कहा है। साथ ही इस मामले में हमारे समाज के लोगों पर दर्ज मामले भी वापस लिए जाएं और धार्मिक उन्माद फैलाने वाले लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाए। अगर 6 महीने में हमारी मांगे पूरी नहीं होती है तो आने वाले समय में देश और प्रदेश में बड़ा आंदोलन खड़ा किया जाएगा जिसकी जिम्मेदारी प्रशासन की होगी।


from Local News, लोकल न्यूज, Hindi Samachar, हिंदी समाचार, state news in hindi, राज्य समाचार , Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/LDKXawW
https://ift.tt/dlwVf3e

No comments