Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

West Bengal election result-2021

West Bengal election result-2021

गला दबाकर महिला को मारा, फिर बोरे में भरकर तालाब में फेंका, आरोपी ASI गिरफ्तार

जमशेदपुर टेल्कों थाना अन्तर्गत तार कंपनी के तालाब के पास 18 नवंबर की सुबह बोरे में बंद मिले महिला के शव के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दि...

जमशेदपुर टेल्कों थाना अन्तर्गत तार कंपनी के तालाब के पास 18 नवंबर की सुबह बोरे में बंद मिले महिला के शव के मामले का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। पुलिस ने शव की पहचान बिष्टुपुर के साउथ पार्क की रहने वाली वर्षा पटेल के रूप में की थी। वर्षा पटेल की हत्या साकची थाना में तैनात ASI धर्मेंद्र कुमार सिंह ने की है। पुलिस उसे बिहार के भोजपुर जिले के साहपुर से गिरफ्तार कर ले आई है। आरोपी ने अपना जुर्म कबूल कर लिया है। सिटी एसपी सुभाष चन्द्र जाट ने बताया कि वर्षा पटेल के मर्डर की जांच के लिए टीम का गठन किया गया। जांच में पता चला कि साकची थाना में तैनात ASI धर्मेंद्र कुमार सिंह से इस महिला की आखिरी बार 12 नवंबर को बात हुई थी। उसी आधार पर पुलिस ने धर्मेंद्र कुमार सिंह को गिरफ्तार किया। पूछताछ में उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया। हत्या के बाद शव को बोरे में रखा और फिर सिलाई कर तालाब में फेंक दिया घटना के सबंध में सिटी एसपी ने बताया कि घटना के दिन एएसआई धर्मेंद्र कुमार सिंह, वर्षा पटेल के घर बिष्टूपुर गया हुआ था। वहां से उसे लेकर अपने घर टेल्को क्वार्टर में गया था। यहां पर किसी बात को लेकर वर्षा पटेल से उसका झगड़ा शुरू हुआ। फिर धर्मेंद्र ने वर्षा के साथ मारपीट की। इस बीच वर्षा के सिर को दीवार पर मारा और फिर उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को बोरा में भर दिया था। इसके बाद बोरे की सिलाई भी की थी। शव को तार कंपनी के तालाब में ले जाकर फेंक दिया, जबकि उसके सामानों को स्वर्णरेखा नदी में बहा दिया। साथ ही उसकी मोबाइल को बिष्टूपुर में ही एक झाड़ी में फेंक दिया था। 'आरोपी ने बताया पैसे को लेकर ब्लैकमेल करती थी वर्षा'एसपी ने जानकारी देते हुए कहा कि पूछताछ में आरोपी धर्मेंद्र ने पुलिस को बताया कि वर्षा पटेल उसे पैसे के लिए हमेशा ब्लैकमेल करती थी। इस से वह काफी परेशान रहता था। इसी से छुटकारा पाने के लिए उसने वर्षा पटेल की हत्या कर दी। एसपी ने बताया कि मृतिका वर्षा पटेल का मोबाइल फोन, शव को छिपाने में प्रयुक्त किया गया थैला जैसी थैली, शव को ढोने के लिए उपयोग किया गया पैशेन मोटर साइकिल, साथ में मोबाइल फोन भी बरामद किया गया है। थाना के निजी जीप चालक ने कराई थी धर्मेंद्र की वर्षा पटेल से दोस्तीमिली जानकारी अनुसार, बिष्टुपुर थाना क्षेत्र के रहने वाली वर्षा पटेल पति से अलग रह ऱही थी और ब्यूटीशियन का काम करती थी। इस दौरान उसकी मुलाकात थाना के जीप चालक जिम्मी से हुई और फिर दोनों में दोस्ती हुई और यह दोस्ती प्यार में बदल गई। बाद में जिम्मी की शादी हो गई। लेकिन फिर भी वर्षा के पास जिम्मी का आना जाना लगा रहता था। इस दौरान जिम्मी ने बिष्टुपुर थाना में पदस्थापित एएसआई धर्मेंद्र कुमार सिंह से उसकी दोस्ती करा दी। फिलहाल साकची थाना में पदस्थापित धर्मेंद्र के साथ वर्षा को देखा जाने लगा। लेकिन हाल के दिनों में दोनों के बीच लगातार झगड़े होने की बात सामने आ रही थी।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3oOtNwX
https://ift.tt/3nBxXZQ

No comments