Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

West Bengal election result-2021

West Bengal election result-2021

Rajasthan: मंत्रिपरिषद की बैठक में गहलोत फरमान, सप्ताह के 3 दिन जयपुर में रुकेंगे मंत्री

रामस्वरूप लामरोड़, जयपुर राजस्थान में मुख्यमंत्री अशाेक गहलोत के नए मंत्रिमंडल के गठन के बाद मंत्री परिषद की पहली बैठक बुधवार को हुई। इस बै...

रामस्वरूप लामरोड़, जयपुर राजस्थान में मुख्यमंत्री अशाेक गहलोत के नए मंत्रिमंडल के गठन के बाद मंत्री परिषद की पहली बैठक बुधवार को हुई। इस बैठक में सरकार की योजनाओं की पूरी मोनिटरिंग पर जोर दियाग या। साथ ही उनका लाभ जन-जन तक पहुंचाने के लिए विशेष रुप से कार्य करने की बात कही गई।मंत्रियों को नियमित रूप से जन सुनवाई करने और सरकारी योजनाओं की सही मॉनिटरिंग करने के लिए भी निर्देशित किया गया। प्रभारी मंत्री प्रतिमाह कम से कम 2 दिन जिलों में करेंगे समीक्षा बैठक में निर्णय किया गया कि मंत्रीगण सप्ताह के प्रथम तीन दिन सोमवार, मंगलवार एवं बुधवार को जयपुर मुख्यालय पर ही रहेंगे। जनअभाव अभियोग के निराकरण के साथ ही विभागीय योजनाओं की नियमित समीक्षा करेंगे। सभी प्रभारी मंत्रियों को अपने प्रभार वाले जिलों में प्रत्येक माह कम से कम 2 दिन का दौरा करना होगा। इस दौरान वे जनसुनवाई करेंगे और जनप्रतिनिधियों के साथ जिले की समस्याओं, राज्य सरकार की योजनाओं एवं कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन का फीडबैक लेंगे और जिला प्रशासन के साथ इन पर समीक्षा करेंगे। मंत्री जिलों के दौरों में प्रशासन गांवों के संग एवं प्रशासन शहरों के संग अभियान 20 सूत्री कार्यक्रम राज्य सरकार की फ्लैगशिप योजनाओं, जन- घोषणा पत्र तथा बजट घोषणाओं एवं मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के द्वारा की गई घोषणाओं की प्रभावी मॉनीटरिंग करेंगे। सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर आमजन को मिलेगी विशेष सौगात मंत्री परिषद की बैठक में आगामी 17 दिसम्बर को राज्य सरकार के कार्यकाल के तीन वर्ष पूरे हो रहे हैं। ऐसे में विभिन्न परियोजनाओं एवं विकास कार्यों के प्रस्तावित लोकार्पण एवं शिलान्यास पर भी विस्तृत चर्चा की गई। यह निर्णय किया गया कि सभी मंत्री इस दौरान जिलों में जाएंगे और सफलता के साथ इस कार्य को सम्पादित कराएंगे। इन तीन वर्षों में राज्य सरकार ने महिलाओं, युवाओं आदिवासियों, एससी, एसटी, पिछड़े, अल्पसंख्यक सहित तमाम जरूरतमंद वर्गों की विकास में भागीदारी बढ़ाने के लिए अनेक निर्णय किए हैं। आमजन को इन कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी होना आवश्यक है। 1 जनवरी 2022 से प्रारंभ होगा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान मंत्रिपरिषद की बैठक में निर्णय लिया गया कि प्रदेश में खाद्य पदार्थों में मिलावट की रोकथाम के लिए आगामी वर्ष की पहली तारीख यानी 1 जनवरी 2022 से शुद्ध के लिए युद्ध अभियान प्रारंभ किया जाएगा। जमीनी स्तर तक इस अभियान की सफलता सुनिश्चित की जाएगी। ताकि आमजन को मिलावटी खाद्य पदार्थों के सेवन से बचाया जा सके। इसके लिए सम्बन्धित विभागों द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जाए। इन्वेस्ट राजस्थान से मिलेगी अर्थव्यवस्था को गति बैठक में बताया गया कि राज्य सरकार निवेश के प्रवाह को बढ़ाने एवं प्रदेश के औद्योगिक विकास को गति देने के लिए भी चर्चा हुई। इसमें आगामी 24 एवं 25 जनवरी को इन्वेस्ट राजस्थान सम्मेलन पर बात हुई। प्रदेश की अर्थव्यवस्था को कोविड के विपरीत प्रभाव से बाहर निकलने तथा आर्थिक गतिविधियों को प्रोत्साहित करने में इस आयोजन से बड़ी मदद मिलेगी। देश में राजस्थान ऐसा पहला राज्य है जहां कोविड से प्रभावित अर्थव्यवस्था को गति देने के लिए इस तरह के निवेश सम्मेलन का आयोजन किया जा रहा है। समिट की सफलता के लिए सभी विभागों को निर्देश दिए गए कि वे इस सम्मेलन में प्राप्त होने वाले निवेश प्रस्तावों को पूर्ण समन्वय एवं समयबद्धता के साथ पूर्ण करें। तीसरी लहर से बचाव के लिए निरंतर सतर्कता बनाए रखना जरूरी मंत्रिपरिषद ने जोर दिया कि कोविड महामारी के प्रसार को रोकने के लिए सतर्कता तथा कोविड अनुशासन की निरन्तर पालना करना जरूरी है। विगत दिनों में कोरोना संक्रमण के मामलों में कुछ वृद्धि हुई है। स्कूलों में भी कोविड संक्रमण के मामले आए हैं। जिस पर राज्य सरकार चिंतित है और प्रदेश में मेडिकल इन्फ्रास्ट्रक्चर को लगातार मजबूत किया जा रहा है।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/30WxWXK
https://ift.tt/3nN3GXT

No comments