Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

Bihar News : पटना में जेपी सेतु के बगल में बनेगा 4 लेन का बड़ा और नया पुल, उत्तर बिहार को केंद्र सरकार ने दिया बड़ा तोहफा

पटना उत्तर बिहार को केंद्र की मोदी सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को पटना में...

पटना उत्तर बिहार को केंद्र की मोदी सरकार ने बड़ा तोहफा दिया है। केंद्रीय सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को पटना में गंगा नदी पर जेपी सेतु के समानांतर एक पुल को केंद्र की मंजूरी की घोषणा की। नए 5 किलोमीटर लंबे पुल में चार लेन होंगे। उत्तर बिहार को केंद्र का बड़ा तोहफा गडकरी ने ट्वीट किया कि 'मंत्रालय ने दीघा और सीतलपुर के बीच चार लेन के पुल को सैद्धांतिक मंजूरी दे दी है, जो पटना-साहेबगंज खंड (एसआईसी) का हिस्सा है।' एक अन्य ट्वीट में, गडकरी ने कहा कि एम्स-पटना से बेतिया तक बकरपुर, मानिकपुर, साहेबगंज और अरेराज के रास्ते एक राजमार्ग को भारतमाला परियोजना में शामिल किया गया है और इसे नया NH-139W घोषित किया गया है। नया पुल होगा राष्ट्रीय राजमार्ग का हिस्सा राज्य के पथ निर्माण मंत्री नितिन नबीन ने बताया कि पुल NH-139W का एक हिस्सा होगा, जिसकी औपचारिक घोषणा केंद्रीय परिवहन मंत्री ने शनिवार को की है। नबीन ने कहा कि जेपी सेतु के समानांतर पुल पटना और उसके आसपास विशेष रूप से शहर के पश्चिमी हिस्सों में यातायात की आवाजाही को आसान बनाएगा। उन्होंने कहा कि 'पुल का निर्माण केंद्र की ओर से किया जाएगा, जबकि राज्य सरकार इसके लिए एप्रोच रोड उपलब्ध कराने के लिए प्रतिबद्ध है, जो पहले से ही जेपी सेतु के लिए उपलब्ध है।' इस पुल के बनने से उत्तर बिहार का राजधानी से संपर्क और बढ़िया नबीन ने कहा कि दक्षिण और उत्तर बिहार के बीच सड़क संपर्क को सुगम बनाया जा रहा है और हर 25 किमी के बाद गंगा पर पुलों का निर्माण किया जा रहा है। नितिन नबीन के मुताबिक 'महात्मा गांधी सेतु के समानांतर चार लेन के पुल का निर्माण प्रगति पर है और यह 2024 तक तैयार हो जाएगा। सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय की ओर से बनाया जा रहा पुल 5.634 किलोमीटर लंबा है, जबकि कुल लंबाई परियोजना (एप्रोच रोड सहित) 14.5 किमी है।इसी तरह, छह लेन वाली कच्ची दरगाह-बिदुपुर पुल का काम अग्रिम चरणों में है। इसका निर्माण राज्य सरकार द्वारा किया जा रहा है और इसके 2023 तक तैयार होने की संभावना है। शेरपुर और दिघवारा के बीच एक छह लेन की सड़क भी प्रस्तावित है, जो पटना रिंग रोड का एक हिस्सा होगी।'


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3GjuFRz
https://ift.tt/3drNEwB

No comments