Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

'अयोध्या जाऊंगा, राम मंदिर में दर्शन करूंगा...दक्षिणा भी दूंगा' क्‍या बोले अखिलेश यादव?

लखनऊ के लिए धुआंधार प्रचार में जुटे समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बयान दिया कि वह अयोध्या जाएंगे और मंदिर के दर्शन करेंगे। उन्हो...

लखनऊ के लिए धुआंधार प्रचार में जुटे समाजवादी पार्टी अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बयान दिया कि वह अयोध्या जाएंगे और मंदिर के दर्शन करेंगे। उन्होंने पाकिस्तान के संस्थापक मोहम्मद अली जिन्ना को लेकर भी स्पष्टीकरण दिया। बीजेपी पर निशाना साधते हुए अखिलेश ने कहा कि उनके दामन में खून के धब्बे लगे हैं। एक टीवी न्यूज चैनल से बातचीत में अखिलेश ने अपनी बुंदेलखंड यात्रा के दौरान कहा कि बीजेपी ने पिछले साढ़े चार सालों में कुछ नया नहीं किया। बल्कि उन्हीं पर काम हुआ जिस पर पुरानी सरकारों ने फैसले लिए थे। अखिलेश ने कहा कि वह अयोध्या में राम मंदिर बनने में दर्शन करने जाएंगे और दक्षिणा देंगे। 'चंदा मांगने की व्यवस्था हिंदू धर्म में नहीं थी' अखिलेश ने कहा, 'मैं अयोध्या जाऊंगा। मेरे घर में भगवान राम का मंदिर है, वहां मैं दर्शन करता हूं। जब अयोध्या में मंदिर बन जाएगा तो वहां भी जाऊंगा और दक्षिणा दूंगा।' अखिलेश ने बीजेपी पर निशाना साधते हुए कहा, 'ये चंदा मांगने की जो व्यवस्था है वह हिंदू धर्म में नहीं थी। ऊपर से उस चंदे में भी इन लोगों ने चोरी कर ली।' जिन्ना पर दिए बयान से मचे बवाल पर अखिलेश ने कहा, 'कम से कम बीजेपी को अपने पुराने मंत्री, उनके सबसे बुजुर्ग नेता की बात सुननी चाहिए जिन्होंने जिन्ना किताब लिखी। उन नेता ने क्या कहा था, इस बारे में बीजेपी को पढ़ना चाहिए।' 'जिन्ना पर बयान स्लिप ऑफ टंग नहीं था'अखिलेश ने कहा कि 'जिन्ना पर बयान स्लिप ऑफ टंग नहीं था, केवल एक चीज थी कि वे एक साथ संस्थान में पढ़े थे और कभी-कभी एक ही संस्थान में पढ़कर औ एक ही जगह रहकर लोग अलग-अलग बात करते हैं। जैसै समाजवादी पार्टी लोगों को जोड़ने की बात कर रही है और वहीं बीजेपी नफरत पैदा कर रही है।' तीन कानून वापस लेने के बारे में अखिलेश ने कहा, 'पहले बीजेपी ये बताए उन तीन कानूनों में क्या हक में था जो कानून में था। और अगर हक में था तो क्या वजह है कि वापस ले लिए गए। ये उन्हें जनता को बताना पड़ेगा।' लखीमपुर खीरी हिंसा पर अखिलेश ने कहा, 'जलियांवाला बाग में सामने से गोली चलाई गई थी। इन्होंने (बीजेपी) पीछे से किसानों को कुचल दिया। बीजेपी के दामन में खून के धब्बे लगे हैं। न जाने कितना समय लगेगा इन्हें मिटाने में।'


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3psicnz
https://ift.tt/3G9PRJy

No comments