Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

Rajasthan: कोरोना के सबसे संक्रामक वैरिएंट ओमिक्रॉन का खतरा! 4 संदिग्ध मरीजों में 2 बच्चे भी

जयपुर राजस्थान में कोरोना वायरस का खतरा फिर से मंडराने लगा है। यह खतरा पहले से भी ज्यादा और खतरनाक संक्रमण वाले ओमिक्रॉन वैरिएंट से बढ़ा ह...

जयपुर राजस्थान में कोरोना वायरस का खतरा फिर से मंडराने लगा है। यह खतरा पहले से भी ज्यादा और खतरनाक संक्रमण वाले ओमिक्रॉन वैरिएंट से बढ़ा है। कोरोना वायरस के इस नए रूप से संदिग्ध संक्रमित परिवार 7 दिन पहले दक्षिण अफ्रीका से जयपुर लौटा था। इस परिवार में दंपती के साथ उनकी दो बेटियां भी कोरोना पॉजिटिव मिली हैं। इन सभी की जीनोम सीक्वेंसिंग जांच करवाई गई है। कोरोना के इस नए खतरनाक रूप ओमिक्रॉन के संदिग्ध मरीजों ने जयपुर में इसके संक्रमण का खतरा और बढ़ा दिया है। दरअसल, विदेश से लौटने के बाद यह परिवार जयपुर में अपने 12 रिश्तेदारों से मिला है। इनमें से 4 लोग पॉजिटिव पाये गए हैं। हालांकि चिकित्सा विभाग की टीम ने अब इस परिवार और इसके संपर्क में आए अन्य सभी लोगों को क्वारंटीन कर दिया है। इन सभी लोगों को वैक्सीन लगी हुई है और इनमें किसी में भी गंभीर लक्षण नहीं दिखाई दे रहे हैं। लेकिन दोनों बच्चियों को वैक्सीन नहीं लगी है और यही अधिक चिंता की बात है। राजस्थन में 213 एक्टिव केस, पूर्व मंत्री भी अस्पताल में भर्ती प्रदेश में गुरुवार को 21 नए कोरोना संक्रमित केस मिले थे। इनमें से 8 राजधानी जयपुर से थे। जबकि 24 जिलों में 110 कोरोना मरीज ठीक हुए हैं। प्रदेश में अब भी 213 एक्टिव केस हैं। बच्चों के लिए खतरनाक है तीसरी लहर! चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि विशेषज्ञों के अनुसार कोरोना की संभावित तीसरी लहर का असर बच्चों पर हो सकता है। ऐसे में बच्चों के बेहतर उपचार के लिए प्रदेश के सभी शिशु चिकित्सालयों के आधारभूत ढांचे को मजबूत किया जा रहा है। शिशु चिकित्सालयों के आईसीयू, नीकू, पीकू और एसएनसीयू में ऑक्सीजन युक्त बैड्स की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। उन्होंने कहा कि बच्चों को कोरोना से बचाने के लिए टीका उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार को लिखा जा रहा है। सतर्कता से ही बचाव है संभव, चिकित्सा मंत्री ने की अपील स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना प्रबंधन से लेकर वैक्सीनेशन में राजस्थान देश भर में अग्रणी रहा है। कोरोना के प्रबंधन की सराहना देश के प्रधानमंत्री भी कर चुके हैं। उन्होंने कहा कि कोरोना अभी गया नहीं है। नए-नए वैरिएंट के साथ वापस आ रहा है। उन्होंने आमजन से अपील करते हुए कहा कि घर से बाहर निकलते समय मास्क लगाना ना भूलें, सोशल डिस्टेंसिंग की पालना जरूर करें और बार-बार साबुन से हाथ धोने को अपने व्यवहार में शामिल कर लें। उन्होंने कहा कि आमजन की सतर्कता से ही कोरोना से बचा जा सकता है। वैक्सीन लगवाने में लापरवाही से बढ़ सकती है परेशानी चिकित्सा मंत्री परसादी लाल मीना ने कहा कि प्रदेश में कोरोना वैक्सीन की पहली डोज लगवा चुके लोग दूसरी डोज लगवाने में लापरवाही ना बरतें। उनकी लापरवाही परिवार, समाज, राज्य और देश पर भी भारी पड़ सकती है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी जिला कलक्टर्स को दूसरी डोज से वंचित लोगों के लिए अभियान चलाकर टीकाकरण के निर्देश दिए जा चुके हैं। 475 से ज्यादा नए ऑक्सीजन प्लांट मीणा ने कहा कि कोरोना की दूसरी लहर में ऑक्सीजन की खासी कमी देखने में आई। मेडिकल ऑक्सीजन की कमी को दूर करने के लिए प्रदेश में 475 से ज्यादा ऑक्सीजन प्लांट लग चुके है, जिनसे इस महीने के अंत तक ऑक्सीजन उत्पादन प्रारंभ किया जा सकेगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार का लक्ष्य एक हजार मेट्रिक टन मेडिकल ऑक्सीजन उत्पादन करने का है। साथ ही राज्य सरकार ने 40 हजार से ज्यादा ऑक्सीजन कंसट्रेटर्स की व्यवस्था की जा चुकी है। राज्य सरकार किसी भी स्थिति का सामना करने में समक्ष और सजग है। अभी तक 6 करोड़ 80 लाख लोगों काे वैक्सीन मीणा ने कहा कि आमजन को वैक्सीन का पहला और दूसरा डोज लगने के बाद ही बूस्टर डोज लग सकता है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब तक 6 करोड़, 80 लाख, 21 हजार 768 लोगों को कोरोना वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इनमें से 4 करोड़, 34 लाख, 48 हजार, 884 को पहला और 2 करोड़ 45 लाख, 72 हजार, 884 लोगों को दूसरी डोज लगाई जा चुकी है। उन्होंने पहला डोज लगवा चुके लोगों से दूसरा डोज लगवाने की अपील की है। उन्होंने कहा कि वैक्सीन की दोनों डोज से ही कोरोना से बचाव संभव है।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3lssuCX
https://ift.tt/31ovUQ8

No comments