Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

मौत के 3 महीने बाद सुसाइड नोट ने खोला राज, मां स्कूल प्राचार्य ने प्रताड़ित किया, मैं मर रहा हूं पत्

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर शहर के एक सरकारी बाबू की 3 महीने पहले हुई मौत का राज खुल गया है। विजय नगर में रहने वाले राजेश के घर से उनकी एक...

भरतपुर: राजस्थान के भरतपुर शहर के एक सरकारी बाबू की 3 महीने पहले हुई मौत का राज खुल गया है। विजय नगर में रहने वाले राजेश के घर से उनकी एक किताब से मौत की वजह का पर्दाफाश हुआ है। सफाई के दौरान राजेश की मां को बेटे की एक किताब से चिट्‌ठी मिली है। इसी चिट्‌ठी में उसने अपनी मौत की वजह भी बताई है। इसी के आधार पर सोमवार को राजेश की मां ने उद्योग नगर थाने में स्कूल प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज कराया है। तीन महीने पहले राजेश ने ट्रेन के आगे कूद कर आत्महत्या कर ली। अब उसकी मां को बेटे की किताबों में एक सुसाइड नोट मिला है। जिसमें उसने आत्महत्या का जिम्मेदार स्कूल के प्रिंसिपल को बताया है। मृतक स्कूल में क्लर्क के पद पर तैनात था। इस चिट्‌ठी के बाद अब मृतक के परिजन प्रिंसिपल के खिलाफ सख्त से सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं। पिता की जगह लगा था राजेश नौकरी परराजेश के पिता का नाम विजय कुमार था। वह शिक्षा विभाग में LDC के पद पर तैनात थे। राजेश के पिता विजय की साल 2012 में हार्ट अटैक आने से मौत हो गई थी। उनकी जगह राजेश ने नौकरी ली। राजेश को साल 2014 में पिता की नौकरी मिल गई। राजेश की पहली पोस्टिंग उच्चैन थाना इलाके में जैचोली गांव के माध्यमिक विद्यालय में मिली। कुछ साल तो राजेश ने सही से नौकरी की लेकिन करीब 2 साल पहले स्कूल में राजेश कुमार मीणा नाम के प्रिंसिपल का ट्रांसफर जैचोली गांव के माध्यमिक विद्यालय में हुआ। जो राजेश को परेशान करता था। राजेश अपनी मां को बताता प्रिंसिपल परेशान करता हैराजेश की मां लज्जा देवी ने बताया की वह उनसे अक्सर कहता था कि उनका प्रिंसिपल राजेश कुमार मीणा उन्हें बेवजह परेशान करता है। राजेश ने अपनी मां को बताया था कि 'अगर वह रोजाना स्कूल जाता है तो प्रिंसिपल किसी न किसी वजह से उसे परेशान करता है। प्रिंसिपल बिना वजह उसे मानसिक तनाव देता है। उसके परेशान करने की वजह से मैं स्कूल कम जाता हूं।' राजेश के सुसाइड के 1 महीने बाद पत्नी ने दिया बेटे को जन्मउद्योग नगर थाना इलाके में ट्रेन के सामने कूद कर राजेश ने आत्महत्या कर ली। उस समय राजेश की पत्नी अपने पीहर गई हुई थी। किसी को नहीं पता था राजेश ने आत्महत्या क्यों की है। राजेश की मौत के करीब 1 महीने के बाद राजेश की पत्नी ने 1 बेटे को जन्म दिया। फिलहाल राजेश के बच्चे की तबीयत ख़राब होने की वजह से उसकी पत्नी पूनम अपने पीहर ही रह रही है। साफ़ सफाई में मां को मिला बेटे का सुसाइड नोटराजेश और उसका बड़ा भाई चरण सिंह अलग-अलग मकान में रहते थे। राजेश की मौत के बाद से उसकी पत्नी अपने पीहर ही रह रही थी तो राजेश का मकान का बंद पड़ा था। राजेश की मां लज्जा देवी 19 जनवरी को राजेश के मकान की सफाई करने पहुंची। जब वह राजेश के कमरे की सफाई कर रही थी तो उन्हें राजेश की किताबों में एक कागज मिला। लज्जा देवी ने घर की बच्ची से उस कागज को पढ़वाया तो पता लगा वह राजेश का सुसाइड नोट है। जिसमें उसने अपनी मौत का जिम्मेदार अपने स्कूल के प्रिंसिपल को ठहराया है। सुसाइड नोट मिलने के बाद मां ने करवाया मामला दर्जसुसाइड नोट मिलने के बाद राजेश की मां लज्जा देवी ने उद्योग नगर थाने में प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। लज्जा देवी ने बताया की उनके बेटे का सुसाइड नोट मिलने के बाद उन्होंने प्रिंसिपल के खिलाफ मामला दर्ज करवाया है। अब वह चाहती हैं की उनके बेटे को आत्महत्या के लिए उकसाने वाले प्रिंसिपल को सख्त से सख्त सजा मिले। राजेश को कैसे करता था प्रिंसिपल परेशान?राजेश ने सुसाइड नोट लिखा था कि, मैं काफी मानसिक तनाव में हूं जिसकी वजह से मैं आत्महत्या करने जा रहा हूं। स्कूल के प्रिंसिपल राजेश कुमार मीणा की वजह से मैं आत्महत्या करने को मजबूर हो चुका हूं। प्रिंसिपल बिना वजह मुझे परेशान करता है। पहले तो बोलता है कि रोजाना स्कूल आया करो जब रोजाना स्कूल जाता हूं तो किसी न किसी कारण से वह परेशान करने लगता है। जिसकी वजह से मैं स्कूल कम जाता हूं। फिर वह बोलता है कि स्कूल नहीं आता। वह बिना वजह मुझे मानसिक तनाव देता है। इसके बारे में पूरे स्कूल में पूछा जा सकता है। प्रिंसिपल ने मुझे कई महीनों से मेरी सैलरी नहीं उठाने दी। प्रिंसिपल स्टाफ में सभी को परेशान करता है। मेरी मौत का सबसे ज्यादा जिम्मेदार प्रिंसिपल राजेश कुमार मीणा है।' मेरी मौत के बाद प्रिंसिपल नौकरी से हटना चाहिए राजेश ने लिखा की मेरी मौत के बाद मेरा सुसाइड नोट सभी को बताना। प्रिंसिपल बचने के लिए किसी न किसी का सहारा लेगा। लेकिन प्रिंसिपल ने मुझे इतना परेशान किया है कि इसका बदला जरूर लेना। प्रिंसिपल के परेशान करने के कारण में आत्महत्या करने के लिए मजबूर हुआ हूं। राजेश ने सुसाइड नोट में लिखा की मां प्रिंसिपल बिना सजा के नहीं रहना चाहिए।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/D0dWQqyVv
https://ift.tt/ykPmeTNsn

No comments