Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

भोपाल MP प्रज्ञा सिंह ठाकुर को ब्लैकमेल करने वाले 8 दिन बाद अरेस्ट

भरतपुर: मध्यप्रदेश की भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर () को भरतपुर के दो ठगों ने सेक्सटॉर्शन (sextortion) में फंसाने की कोशिश करने ...

भरतपुर: मध्यप्रदेश की भोपाल सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर () को भरतपुर के दो ठगों ने सेक्सटॉर्शन (sextortion) में फंसाने की कोशिश करने वाले आखिर पकड़े गए। सांसद ने 7 फरवरी को भोपाल के थाना टीटी नगर में इसे लेकर मामला दर्ज करवाया। इसके बाद भोपाल पुलिस (Bhopal Police) जांच पड़ताल करते हुए राजस्थान पहुंची। यहां सोमवार को भरतपुर जिले की सीकरी थाना पुलिस की मदद से दोनों आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है। दोनों ठग सगे भाई हैं। फिलहाल, भोपाल पुलिस दोनों ठगों को ट्रांजिट रिमांड पर भोपाल लेकर जा रही है। 6 फरवरी को शुरू हुई साजिश सांसद साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने मामला दर्ज करवाते हुए बताया था कि 6 फरवरी को करीब 7 बजे उनके मोबाइल पर व्हाट्सअप से एक मैसेज आया। मैसेज में ठग ने सांसद को बोला, 'हेलो मुझे आपसे बात करनी है'। इसके बाद सांसद ने रिप्लाई किया, 'आप अपना पूरा परिचय भेजो बेटा'। कुछ देर बाद सांसद के पास उसी नंबर से वीडियो कॉल आया। जिसे सांसद ने अटेंड किया। न्यूड कॉल को रिकॉर्ड कर धमकी वीडियो कॉल उठाते ही सांसद ने ठग को कहा 'हरिओम' वीडियो कॉल पर एक लड़की दिखाई दे रही थी। जो अपने कपड़े उतारने लगी। इतने में सांसद ने वीडियो कॉल काटकर उसे ब्लॉक कर दिया। कुछ देर बाद दूसरे नंबर से एक फोटो आया। फोटो में पहले नंबर से गई वीडियो कॉल का स्क्रीन शॉट था। ठगों ने सांसद को धमकी दी की वह इसे सोशल मीडिया पर वायरल कर देंगे। रात ढाई बजे तक करते रहे कॉल, पुलिस में शिकायत के बाद जांच सेक्सटॉर्शन के जाल में फंसाते हुए ठग बदमाशों ने सांसद को बार-बार फोन किए। जब सांसद ने ब्लॉक किया तो, रात 2 बजकर 30 मिनट तक कॉल करते रहे। लेकिन सांसद ने ठगों का फोन नहीं उठाया। जिसके बाद सांसद ने 7 फरवरी को भोपाल के टीटी नगर में ठगों के खिलाफ मामला दर्ज करवाया। ऐसे पकड़ में आए बदमाश भोपाल पुलिस ने फोन करने वाले नंबरों को ट्रेस किया। सामने आया कि नंबर भरतपुर के सीकरी थाना इलाके के चंदा का बास बनेनी गांव से हैं। पुलिस इसी जानकारी के साथ सोमवार को धबिश देने पहुंची। भोपाल पुलिस के सब इंस्पेक्टर देवेंद्र साहू और उनकी टीम के साथ सीकरी थाना पुलिस भी थी। दबिश के दौरान गांव से वरिस और उसके भाई रवीन को गिरफ्तार कर लिया गया। फिलहाल भोपाल पुलिस दोनों आरोपियों को ट्रांजिट रिमांड पर भोपाल लेकर जा रही है।


from Local News, लोकल न्यूज, Hindi Samachar, हिंदी समाचार, state news in hindi, राज्य समाचार , Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/JQG6th5
https://ift.tt/ryq7t2E

No comments