Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

आज से नन्हें कदम भी बोलेंगे 'स्कूल' चले हम, जानिए किन बातों का रखना होगा खयाल

जयपुरप्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने के साथ ही स्कूलों (School reopen) को क्रमवार खोलने का सिलसिला जारी है। 9वीं से 12 वीं और छटवी ...

जयपुरप्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने के साथ ही स्कूलों (School reopen) को क्रमवार खोलने का सिलसिला जारी है। 9वीं से 12 वीं और छटवी से 8 वीं तक के स्कूल खोले जाने के बाद आज सोमवार से प्राइमरी स्कूल (Primary School reopen) भी शुरू किए जा रहे हैं। सरकार के आदेश के बाद अब पहली से 5वीं तक के बच्चे लंबे अंतराल के बाद फिर से स्कूल में बैठकर पढ़ सकेंगे। आपको बता दें कि पहली से पांचवी क्लास तक प्रदेश के लगभग 55 लाख बच्चे पिछले साल की मार्च से स्कूल नहीं गए हैं। ऐसे में 18 महीनों बाद आज से फिर उनके लिए स्कूल जाने का रास्ता खुल गया है।

Rajasthan school open for kids : राजस्थान में सोमवार से पहली से लेकर 5 वीं तक की कक्षा के स्कूल भी खोले जा चुके हैं। राज्य सरकार की गाइडलाइन के अनुसार बच्चों को आज स्कूल में प्रवेश दिया जाएगा।


आज से नन्हें कदम भी बोलेंगे 'स्कूल' चले हम, जानिए किन बातों का रखना होगा खयाल

जयपुर

प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रफ्तार थमने के साथ ही स्कूलों (School reopen) को क्रमवार खोलने का सिलसिला जारी है। 9वीं से 12 वीं और छटवी से 8 वीं तक के स्कूल खोले जाने के बाद आज सोमवार से प्राइमरी स्कूल (Primary School reopen) भी शुरू किए जा रहे हैं। सरकार के आदेश के बाद अब पहली से 5वीं तक के बच्चे लंबे अंतराल के बाद फिर से स्कूल में बैठकर पढ़ सकेंगे। आपको बता दें कि पहली से पांचवी क्लास तक प्रदेश के लगभग 55 लाख बच्चे पिछले साल की मार्च से स्कूल नहीं गए हैं। ऐसे में 18 महीनों बाद आज से फिर उनके लिए स्कूल जाने का रास्ता खुल गया है।



​50 प्रतिशत स्टूडेंट्स हर दिन क्लास में बुलाए जा सकेंगे
​50 प्रतिशत स्टूडेंट्स हर दिन क्लास में बुलाए जा सकेंगे

उल्लेखनीय है कि फिलहाल 50% स्टूडेंट्स को ही हर दिन क्लास में बुलाया जाएगा। बच्चे रोल नंबर के आधार पर ऑड-ईवन फॉर्मूले के आधार पर स्कूल बुलाए जाएंगे। हर दिन अलग बैच के बच्चों को पढ़ाया जाएगा।



​ऑनलाइन एजुकेशन भी रहेगी जारी
​ऑनलाइन एजुकेशन भी रहेगी जारी

फिलहाल छात्रों का स्कूल आना अनिवार्य नहीं किया गया है। बच्चों को पैरेंट्स की लिखित अनुमति के बाद ही स्कूल भेजा जा सकता है। छात्र घर बैठकर भी ऑनलाइन एजुकेशन ले सकेंगे। वहीं, जो छात्र स्कूल आ रहे हैं, वह बिना यूनिफार्म में आ सकेंगे।



​कोरोना पॉजिटिव आने पर कक्षा कक्ष 10 दिन के लिए बंद होगा
​कोरोना पॉजिटिव आने पर कक्षा कक्ष 10 दिन के लिए बंद होगा

स्कूल परिसर में स्टूडेंट और टीचर के कोरोना पॉजिटिव आने पर संबंधित कक्षा कक्ष 10 जिन के लिए बंद रहेगा। संबंधित स्टूडेंट और स्टाफ को तुरंत निकट के अस्पताल में इलाज के लिए रेफर किया जाएगा, ताकि संक्रमण ने फैल सके।



​प्रार्थना सभा - सामूहिक आयोजनों पर रोक
​प्रार्थना सभा - सामूहिक आयोजनों पर रोक

उल्लेखनीय है कि स्कूलों में बच्चों को प्रवेश देने के साथ ही प्रार्थना सभा और सामूहिक आयोजनों पर रोक रहेगी। वहीं स्कूल में लंच बॉक्स बच्चे आपस में शेयर नहीं कर सकेंगे।



​प्रार्थना सभा - सामूहिक आयोजनों पर रोक
​प्रार्थना सभा - सामूहिक आयोजनों पर रोक

उल्लेखनीय है कि स्कूलों में बच्चों को प्रवेश देने के साथ ही प्रार्थना सभा और सामूहिक आयोजनों पर रोक रहेगी। वहीं स्कूल में लंच बॉक्स बच्चे आपस में शेयर नहीं कर सकेंगे।



​बच्चों को सिखाया जाएगा स्कूलों में कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर
​बच्चों को सिखाया जाएगा स्कूलों में कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर

मिली जानकारी के अनुसार प्रदेश के कई स्कूलों में बच्चों को कोरोना एप्रोप्रियेट बिहेवियर सिखाने की बात भी कही जा रही है। स्कूलों का कहना है कि इस लर्निंग के जरिए बच्चों को भविष्य में कोरोना के खतरे से बचाया जा सकेगा।





from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3zK32x6
https://ift.tt/3udvLt4

No comments