Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

साइको आशिक का हिला देने वाला कृत्य, महिला की कुल्हाड़ी मार हत्या, फिर लाश के साथ सवा घंटे सोया रहा

दिलीप डूडी, जालोर Women : राजस्थान में महिला अपराध से जुड़े चौंकाने वाले मामले लगातार सामने आ रहे हैं। जालोर जिले से भी ऐसी ही घटना का ख...

दिलीप डूडी, जालोर Women : राजस्थान में महिला अपराध से जुड़े चौंकाने वाले मामले लगातार सामने आ रहे हैं। जालोर जिले से भी ऐसी ही घटना का खुलासा हुआ है, जो दिल दहलाने वाली है। यहां जिले के आहोर थाना क्षेत्र अंतर्गत थांवला गांव में रविवार सुबह मनरेगा कार्य कर रही एक महिला श्रमिक की एक युवक ने कुल्हाड़ी मार कर हत्या कर दी। आरोपी को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। पता चला है कि आरोपी की इस महिला के प्रति काफी दिनों से गलत नजर रखे हुए था। वहीं विवाहिता से एकतरफा चाहत ने उसे हैवान बना दिया। मिली जानकारी के अनुसार रविवार मनरेगा स्थल पर काम करते समय आरोपी वहां पहुंचा और महिला की हत्या कर दी। पुलिस को दी रिपोर्ट के मुताबिक थांवला निवासी गोमाराम पुत्र नाथूराम चौधरी ने बताया कि थांवला गांव में जोजावर नाडी में मनरेगा का कार्य चल रहा है। छोटे भाई की पत्नी पर रखता था गलत नजर इसमें रविवार 24 अक्टूबर को उसके छोटे भाई शांतिलाल चौधरी की पत्नी श्रीमती शांतिदेवी मनरेगा काम करने के लिए गई थी। दिन में करीब 11:30 बजे शांति देवी मनरेगा का काम कर रही थी, वहां पर उस समय 50-60 और भी श्रमिक काम कर रहे थे। उसी दौरान थांवला निवासी गणेश पुत्र थानाराम मीणा वहां पर कुल्हाड़ी और एक कूट (धारदार हथियार) लेकर आया। काम करती हुई शांति देवी के पास में गया और जोर-जोर से कूट घुमाते हुए चिल्लाया कि आज तेरे को जान से मार कर ही रहूंगा, फिर उसने जान से मारने की नियत से शांति देवी के कंधे, गर्दन व शरीर पर जगह-जगह वार किए। जिससे शांतिदेवी गिर पड़ी, उसकी गर्दन टूट गई थी। मृत शरीर पर ही सोता रहा इसके बाद महिला के नीचे गिरने के बाद भी वो वार करता रहा। उस समय नगीबाई पत्नी कस्तूराराम चौधरी थांवला व तुलसीबाई पत्नी जवानराम चौधरी और जवानाराम पुत्र कस्तूराराम चौधरी निवासी थांवला आवाज सुनकर छुड़ाने के लिए बीच में पड़े , तो उनके साथ भी धक्का-मुक्की की। उसके बाद शांति देवी की मौके पर ही गंभीर चोटों की वजह से मौत हो गई थी। घटना के बाद चौंकाने वाली बात यह रही कि महिला की निर्मम हत्या के बाद भी आरोपी गणेश मीणा शांति देवी के मृत शरीर पर ही सो गया। जवानाराम ने उनको यह घटना बताई, तब वो मौके पर पहुंचा। कई दिनों से कर रहा था पीछारिपोर्ट में बताया कि गणेश मीणा उसके छोटे भाई की पत्नी शांतिदेवी का गलत नियत से कई दिनों से पीछा कर रहा था। गलत हरकतें कर रहा था। इसकी जानकारी उसके पति ने उसे दी थी, उन्होंने गणेश मीणा से समझाइश भी की थी ,पर वह नहीं माना और आखिरकार उसने हत्या कर दी। आरोपी को हिरासत में लियाघटना की जानकारी मिलते ही मौके पर भीड़ एकत्रित हो गई। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनुकृति उज्जैनिया, वृताधिकारी हिम्मत चारण, कांग्रेस नेता सवाराम पटेल समेत मौके पर पहुंचे। पुलिस ने आरोपी को हिरासत में लिया है।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3njjBvC
https://ift.tt/3pECUmd

No comments