Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

आगरा की बाह सीट पर इस खानदान का है राज, 17 में से 11 बार विधायक इसी परिवार से निकले!

आगरा आगरा की बाह विधानसभा सीट () पर 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी। इस सीट पर हमेशा से ही भदावर राजघराने का प्रभाव देखा गय...

आगरा आगरा की बाह विधानसभा सीट () पर 2017 में भारतीय जनता पार्टी ने जीत दर्ज की थी। इस सीट पर हमेशा से ही भदावर राजघराने का प्रभाव देखा गया है। 1952 से अब तक हुए 17 विधानसभा चुनावों में 11 बार विधायक इसी परिवार से कोई चुना गया है। 2017 में बाह में कुल 41.79 प्रतिशत वोट पड़े थे। भारतीय जनता पार्टी से रानी पक्षलिका सिंह ने बहुजन समाज पार्टी के मधुसूदन शर्मा को 23,140 वोटों के बड़े मार्जिन से हराया था। यह सीट फतेहपुर सीकरी संसदीय क्षेत्र के अंतर्गत आती है। राजा महेंद्र रिपुदमन के परिवार का रहा है एकछत्र राजइस सीट पर पहली बार चुनाव 1952 में हुए थे जिसमें कांग्रेस के शंभुनाथ चतुर्वेदी की जीत हुई थी। 1957 में निर्दलीय प्रत्याशी और भदावर राजघराने के राजा महेंद्र रिपुदमन सिंह इस सीट से जीते। इसके बाद वह 1974 के चुनाव में स्वतंत्र पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़े और विधानसभा पहुंचे। राजा महेंद्र रिपुदमन सिंह इस सीट से चार बार चुनाव जीते। बेटे और बहू ने संभाली पिता की विरासत!महेंद्र रिपुदमन सिंह के बाद उनके बेटे राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने पिता की विरासत संभाली। 1989 में पहली बार विधायक चुने गए अरिदमन सिंह लगातार 5 बार इस सीट से चुनाव जीते। 1989, 1991 और 1993 विधानसभा चुनाव उन्होंने जनता पार्टी से, तो 1996 और 2002 के विधानसभा चुनाव उन्होंने बीजेपी के टिकट पर जीते। 2007 में बीएसपी के मधुसूदन शर्मा जीत गए, मगर 2012 के चुनाव में समाजवादी पार्टी के टिकट पर लड़े अरिदमन सिंह की फिर से वापसी हुई। 2017 के चुनाव से पहले वह बीजेपी में आ गए और पार्टी ने उनकी पत्नी रानी पक्षालिका सिंह को टिकट दिया। रानी पक्षालिका सिंह ने बीएसपी के मधुसूदन शर्मा को 23,140 वोटों के बड़े मार्जिन से हरा दिया। 2012 के चुनावों का हाल2007 में हार मिलने के बाद राजा महेंद्र अरिदमन सिंह ने जबर्दस्त वापसी की। 2012 के विधानसभा चुनाव में समाजवादी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और बीएसपी के मधुसूदन शर्मा को हराया। राजा महेंद्र अरिदमन सिंह को 99,379 वोट मिले, जबकि बीएसपी के मधुसूदन शर्मा को 72,908 वोट मिले। 2017 के विधानसभा चुनाव का हाल2017 के चुनाव में राजा महेंद्र अरिदमन सिंह बीजेपी में शामिल हो गए। हालांकि पार्टी ने उनकी पत्नी रानी पक्षालिका सिंह को टिकट दिया। पक्षालिका सिंह भी जीतने में कामयाब रहीं। उन्हें 80,547 वोट मिले जबकि बीएसपी के मधुसूदन शर्मा को 57,427 वोट मिले।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3lkuIo4
https://ift.tt/3d2w81T

No comments