Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

West Bengal election result-2021

West Bengal election result-2021

Bihar News : स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में पटना ने कटवाई नाक... मगर गया और सुपौल जिले ने बचा ली बिहार की इज्जत

पटना स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में बिहार का फिर से खराब प्रदर्शन रहा है। हाल ये है कि रैंकिंग में बिहार की राजधानी पटना को गया और सुपौल जिले ...

पटना स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में बिहार का फिर से खराब प्रदर्शन रहा है। हाल ये है कि रैंकिंग में बिहार की राजधानी पटना को गया और सुपौल जिले से भी कम अंक मिले हैं। हालांकि पिछली रैंकिंग के तुलना में पटना ने काफी सुधार दर्ज किया है। वहीं पड़ोसी राज्य झारखंड को 100 से कम यूएलबी वाले 14 राज्यों में शीर्ष पर होने के लिए सम्मानित किया गया, इस लिस्ट में बिहार सबसे नीचे है। पटना ने कटाई नाक, गया-सुपौल ने बचाई बिहार की इज्जतरैंकिंग में बिहार की राजधानी पटना के खराब प्रदर्शन के बावजूद दो जिलों ने राज्य को राहत दी है। ऑल इंडिया जिला रैंकिंग में देश भर के 659 जिलों में से गया को 289वां, सुपौल को 300वां, पटना को 313वां और मुजफ्फरपुर को 351वां स्थान मिला है। स्वच्छ सर्वेक्षण के लिए दिए हए 121 अवार्ड में से पूर्वी क्षेत्र के लिए इकलौते बिहार के सुपौल जिले को बेस्ट सिटीजन फीडबैक कैटेगरी का अवार्ड मिला है। पटना ने पहले के मुकाबले किया सुधार हालांकि, पटना ने सर्वेक्षण में कुछ सुधार किया है क्योंकि स्वच्छ सर्वेक्षण, 2020 में इसकी रैंक 47 शहरों के निचले स्तर से बढ़कर इस बार 48 शहरों में से 44 हो गई है। गंगा नगर श्रेणी में भी राज्य की राजधानी की रैंकिंग पिछले साल के 32 से सुधरकर इस बार तीसरे स्थान पर है। सर्वे में पटना ने 6,000 अंकों में से 2739.92 अंक हासिल किए, जो पिछले साल के 1,552 अंकों से 1187 अंक ज्यादा है। हालांकि स्वच्छ सर्वेक्षण के तहत कुल अंक समान रहे हैं, लेकिन मूल्यांकन श्रेणियों की संख्या पिछले साल के चार से घटाकर इस बार तीन कर दी गई है। पिछले साल चार श्रेणियों - प्रत्यक्ष अवलोकन, नागरिक प्रतिक्रिया, सेवा स्तर की प्रगति और प्रमाणन के तहत शहरों का मूल्यांकन किया गया था। प्रत्येक श्रेणी में 1,500 अंक थेइस वर्ष इसे तीन श्रेणियों में बदल दिया गया - नागरिक आवाज (1,800 अंक), प्रमाणन (1,800 अंक) और सेवा स्तर की प्रगति (2,400 अंक)। पटना नगर निगम का बयान पटना नगर निगम की ओर से जारी एक बयान के अनुसार, पटना ने नागरिकों की आवाज की श्रेणी में सर्वोच्च अंक हासिल किया। राज्य की राजधानी ने 1,800 में से 1,341 अंक प्राप्त किए और इस श्रेणी में 4,320 शहरों में 174वां स्थान हासिल किया। बिहार के इतने लोगों ने सर्वेक्षण में लिया भाग राज्य के कुल 4,77,849 लोगों ने अपने-अपने यूएलबी में स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लिया था, जिसमें पटना में 2,01,662 लोग शामिल थे। 'सेवा स्तरीय प्रगति' की श्रेणी में पटना के अंक 2020 के 105.16 से बढ़कर इस बार 1,098 हो गए हैं। दरअसल इस कैटेगरी में पटना को सबसे ज्यादा अंक मिले हैं।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3DSs8wZ
https://ift.tt/3x5ZRQS

No comments