Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

'चपरासी की नौकरी दिला दीजिए, शादी नहीं हो रही' जब जनता दर्शन में फरियादी ने योगी से लगाई गुहार

गोरखपुर गोरखपुर में के दौरान उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ को एक अजीबो-गरीब फरियादी का सामना करना पड़ा। गुलरिहा के भटहट क...

गोरखपुरगोरखपुर में के दौरान उत्‍तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ को एक अजीबो-गरीब फरियादी का सामना करना पड़ा। गुलरिहा के भटहट के सूरज की फरियाद थी ही ऐसी कि‍ सबका ध्‍यान उस ओर चला गया। फरियाद थी- ‘महराज जी, मुझे दे दीजिए, क्‍योंक‍ि मेरी शादी नहीं हो रही’। प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदि‍त्‍यनाथ हिन्दूसेवा श्रम में सीएम ने लोगों की समस्याएं सुन रहे थे। काफी लोग अपनी समस्‍याएं लेकर आए थे। अभी लोगों को सुनना शुरू ही किया था क‍ि 35 वर्षीय सूरज ने सीएम से फरियादा लगाई। सूरज को पहचानते थे। सूरज ने कहा, 'चपरासी की नौकरी ही दिला दीजिए, क्योंकि मेरी शादी नहीं हो रही।' ये सुनते ही सीएम योगी ने कहा, ‘तुम तो चुनाव लड़ने के लिए टिकट मांग रहे थे? पहले तय कर लो कि तुम्हे क्या करना है?’ इस पर सूरज ने जवाब दिया,‘महराज जी! नौकरी न होने के कारण शादी नहीं हो पा रही है। इससे मैं काफी परेशान हूं।’ 'सामूहिक विवाह कार्यक्रम का मिले लाभ'सूरज इसे पहले विधानसभा चुनाव के लिए टिकट की मांग को लेकर भी सीएम से मुलाकात कर चुके हैं। सूरज ने बताया क‍ि श्रम विभाग और समाज कल्याण विभाग सामूहिक विवाह के लिए आयोजन कर रहा है, इन आयोजनों का लाभ मुझे भी मिलना चाहिए। मुख्‍यमंत्री योगी आद‍ित्‍यनाथ ने इस दौरान 50 से ज्‍यादा लोगों की श‍िकायतें सुनीं और निवारण का आश्‍वासन दिया। जनता दर्शन कार्यक्रम के दौरान गोरखपुर जोन के कमिश्नर रवि कुमार एनजी, डीएम विजय किरण आनंद, जीडीए वीसी प्रेम रंजन सिंह, एसएसपी विपिन ताडा, आईजी जे रविंद्र गौड़, एडीजी अखिल कुमार, अजय सिंह समेत अन्य प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे। वहीं सुनवाई के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को आश्वासन दिया कि किसी का भी इलाज बगैर पैसे के नहीं रुकेगा. मुख्यमंत्री ने कहा कि हॉस्पिटल से बिल लेकर जिला प्रशासन को दें और तुरंत आपकी समस्या का समाधान हो जाएगा. पैसे के अभाव में किसी का इलाज नहीं रुकेगा.


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/3rIfOfh
https://ift.tt/3InWc6g

No comments