Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

क्रिमिनल केस, करोड़पति...SAD अव्वल, AAP भी पीछे नहीं, पंजाब चुनाव पर ADR की आई रिपोर्ट

चंडीगढ़: पंजाब विधानसभा चुनाव के मैदान में उतरे 1276 उम्मीदवारों में से 25 फीसदी के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। यह बात पंजाब इलेक्शन वॉ...

चंडीगढ़: पंजाब विधानसभा चुनाव के मैदान में उतरे 1276 उम्मीदवारों में से 25 फीसदी के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। यह बात पंजाब इलेक्शन वॉच की ओर से तैयार की गई एक रिपोर्ट में सामने आई है। असोसिएशन ऑफ डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) से संबंधित पंजाब इलेक्शन वॉच (पीईडब्ल्यू) ने 20 फरवरी को होने वाले चुनाव में 1,304 उम्मीदवारों में से 1,276 उम्मीदवारों के चुनावी हलफनामों का विश्लेषण किया। पंजाब इलेक्शन वॉच और असोसिएशन फॉर डेमोक्रेटिक रिफॉर्म्स (एडीआर) के एक विश्लेषण में कहा गया है कि पंजाब विधानसभा की 117 सीटों के लिए 25 प्रतिशत उम्मीदवारों पर आपराधिक मामले हैं। 57 निर्वाचन क्षेत्र ऐसे हैं जहां के तीन या तीन से ज्यादा उम्मीदवारों के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। 28 प्रत्याशियों के हलफनामे का नहीं हो सका विश्लेषण 1,276 उम्मीदवारों में से 228 राष्ट्रीय दलों, 256 राज्य दलों, 345 पंजीकृत गैर-मान्यता प्राप्त दलों और 447 निर्दलीय चुनावी मैदान में हैं। उनका कहना है कि उन्होंने 28 उम्मीदवारों का विश्लेषण नहीं किया है क्योंकि उनके हलफनामे या तो ठीक से स्कैन नहीं किए गए थे, या फिर भारत के चुनाव आयोग की वेबसाइट पर अपलोड नहीं किए गए थे। 2017 में 9 फीसदी अपराधी छवि वाले लड़े थे चुनाव कुल 315 (25 प्रतिशत) उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए हैं। 2017 के पंजाब विधानसभा चुनावों में, विश्लेषण किए गए 1,145 उम्मीदवारों में से 100 (9 फीसदी) ने अपने खिलाफ आपराधिक मामले घोषित किए थे। इस बार 218 (17 फीसदी) ने अपने खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले घोषित किए हैं, जो 2017 में 77 (सात फीसदी) थे। सबसे ज्यादा अपराधी छवि वाले SAD में, AAP भी पीछे नहीं प्रमुख दलों में शिरोमणि अकाली दल (SAD) के 96 उम्मीदवारों में से 60 (63 प्रतिशत) के खिलाफ गंभीर आपराधिक मामले दर्ज हैं। आम आदमी पार्टी (आप) के 117 उम्मीदवारों में से 27 (23 प्रतिशत), भाजपा के 71 उम्मीदवारों में से 15 (21 प्रतिशत), शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) के 14 उम्मीदवारों में से तीन (21 प्रतिशत) आपराधिक छवि वाले हैं। बसपा के 20 उम्मीदवारों में से तीन (15 प्रतिशत), कांग्रेस के 117 उम्मीदवारों में से 9 (आठ प्रतिशत) और पंजाब लोक कांग्रेस के 27 उम्मीदवारों में से 2 (सात प्रतिशत) के खिलाफ आपराधिक मामले दर्ज हैं। प्रत्याशियों पर रेप और हत्या के केस तक 15 उम्मीदवारों के खिलाफ महिलाओं के खिलाफ अपराधों से संबंधित केस दर्ज हैं। दो उम्मीदवार ऐसे हैं जिनके ऊपर रेप का केस चल रहा है। चार के खिलाफ हत्या के मामले दर्ज हैं। 33 उम्मीदवारों ने अपने खिलाफ हत्या के प्रयास से जुड़े मामले दर्ज हैं। अकाली दल के 93 फीसदी उम्मीदवार करोड़पति संपत्ति के संबंध में, 1,276 उम्मीदवारों में से 521 (41 प्रतिशत) करोड़पति हैं, 2017 के चुनावों में 1,145 उम्मीदवारों में 428 (37 प्रतिशत) करोड़पति थे। प्रमुख दलों में एसएडी से विश्लेषण किए गए 96 उम्मीदवारों में से 89 (93 प्रतिशत), कांग्रेस से विश्लेषण किए गए 117 उम्मीदवारों में से 107 (92 प्रतिशत), भाजपा से विश्लेषण किए गए 71 उम्मीदवारों में से 60 (85 प्रतिशत), बसपा से विश्लेषण किए गए 20 उम्मीदवारों में से 16 (80 प्रतिशत), शिअद (संयुक्त) से विश्लेषण किए गए 14 उम्मीदवारों में से 11 (79 प्रतिशत), आप से विश्लेषण किए गए 117 उम्मीदवारों में से 81 (69 प्रतिशत), पंजाब लोक कांग्रेस के 27 में 16 (59 प्रतिशत) ने खुद के पास 1 करोड़ रुपये से अधिक की संपत्ति घोषित की है। चुनाव लड़ने वाले प्रति उम्मीदवार की औसत संपत्ति 4.31 करोड़ रुपये है। 2017 के पंजाब विधानसभा चुनावों में, 1,145 उम्मीदवारों के लिए प्रति उम्मीदवार औसत संपत्ति 3.49 करोड़ रुपये थी।


from Local News, लोकल न्यूज, Hindi Samachar, हिंदी समाचार, state news in hindi, राज्य समाचार , Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/hJLdX3M
https://ift.tt/Ie5MZDE

No comments