Page Nav

HIDE

Grid

GRID_STYLE

Classic Header

{fbt_classic_header}

Top Ad

Breaking News:

latest

भारत श्री सम्मान

भारत श्री सम्मान
आप के योगदान को देता है , समुचित सम्मान एवं कार्य क्षेत्रों को देता है नया आयाम। "भारत श्री सम्मान" । आज ही आवेदन करें । कॉल एवं व्हाट्सएप : 9354343835.

'नॉर्थ ब्लॉक में अमित शाह और धर्मेंद्र प्रधान के घर पर बनी थी सरकार गिराने की साजिश', अशोक गहलोत के दावे में कितना दम

जयपुर राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बीच के तीखे हमले जारी है। हाल ही जयपुर दौर में आए अमित शाह ने ...

जयपुरराजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के बीच के तीखे हमले जारी है। हाल ही जयपुर दौर में आए अमित शाह ने जहां राज्य सरकार को घेरते हुए पीएम केयर वेंटिलेंटर्स के मुद्दे को उठाया। वहीं एक बार फिर सीएम गहलोत ने शाह पर हमला बोलते हुए उनकी सरकार गिराने की साजिश रचने का केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह पर आरोप लगाया है। प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय (PCC) में जयपुर मीडिया से बातचीत में सीएम गहलोत ने दावा किया कि उनकी सरकार को गिराने के लिए नॉर्थ ब्लॉक में अमित शाह के ऑफिस में बैठकर षड्यंत्र रचा गया था। लेकिन अमित शाह फेल हो गए। षड्यंत्र में शामिल एक मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत तो राजस्थान के ही थे। वहीं धर्मेंद्र प्रधान भी इस साजिश में शामिल थे। कितना सच हैं गहलोत का यह दावा उल्लेखनीय है कि सीएम गहलोत सियासी संकट के बाद से लगातार एक वायरल ऑडियो को लेकर चर्चा कर रहे हैं। गहलोत की मानें तो इस ऑडियो लीक में जो बातचीत हुई, वो उनकी सरकार को गिराने को लेकर हुई, जिसमें एक आवाज मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की है। गहलोत का कहना है कि मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की आवाज तो टेप में आई थी। गजेंद्र सिंह शेखावत अगर आवाज का नमूना दें तो पोल खुल जाएगी। आपको बता दें कि इस ऑडियो को सबसे पहले सीएम के ओएसडी लोकेश शर्मा ने मीडिया को दिया था। वहीं इसके बाद से फोन टैपिंग को लेकर भी राजस्थान में विवाद शुरू हो गया हालांकि अभी तक इस बात का खुलासा नहीं हो पाया है कि वायरल ऑडियो में किसकी आवाज थी और इस दौरान आपस में बात कर रहे लोगों का इसके पीछे क्या उद्देश्य था। फोन टैपिंग को लेकर दिल्ली क्राइम ब्रांच कर रही है जांच उल्लेखनीय है कि वायरल ऑडियो टैप के सामने आने के बाद यह सवाल उठा कि राजस्थान में जनप्रतिनिधियों के फोन टैप किए जा रहे हैं। हालांकि विधानसभा में इसे लेकर गहलोत सरकार ने जवाब दे दिया। लेकिन इसी बीच जल शक्ति मंत्री ने गहलोत सरकार पर आरोप लगाते हुए उनके ओएसडी लोकेश शर्मा के खिलाफ दिल्ली क्राइम ब्रांच को फोन टैपिंग का आरोप लगाते हुए शिकायत दे दी। इसे लेकर अब दिल्ली क्राइम ब्रांच जांच कर रही है। सीएम के ओएसडी से दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच ने की पूछताछ उल्लेखनीय है कि लगभग चार बार दिल्ली पुलिस क्राइम ब्रांच की ओर से तलब किए जाने के बाद इसी सप्ताह सीएम गहलोत के ओएसडी लोकेश शर्मा दिल्ली पहुंचे। इस दौरान फोन टैपिंग और ऑडियो टैप वायरल के संबंध से पुलिस ने उनसे 4 घंटे पूछताछ की। जानकारों का कहना है कि दिल्ली क्राइम ब्रांच सभी संबंधित लोगों से पूछताछ के बाद इसमें बड़ा खुलासा कर सकती है। ऐसे बाहर आ सकता है सच उल्लेखनीय है कि सियासी संकट के दौरान वायरल हुआ सरकार गिराने का कथित ऑडियो टैप कितना सही है या वाकई सरकार गिराने की साजिश रची गई। इस बात का खुलासा तभी हो सकता है कि जब या तो मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत अपने वॉयस का सैंपल दें या फिर दिल्ली क्राइम ब्रांच इस मामले में इंवेस्टिगेट कर तथ्यों के आधार पर नए खुलासे करे।


from Hindi Samachar: हिंदी समाचार, Samachar in Hindi, आज के ताजा हिंदी समाचार, Aaj Ki Taza Khabar, आज की ताजा खाबर, राज्य समाचार, शहर के समाचार - नवभारत टाइम्स https://ift.tt/31DbXWi
https://ift.tt/3pFVBUT

No comments